Moradabad: मां-बेटी को सिर कुचलकर उतारा मौत के घाट, ससुराल वालों पर जमीनी विवाद में हत्या का आरोप
Moradabad: Mother-daughter were crushed to death, in-laws accused of murder in a land dispute
 

Moradabad News: गजरौला के कांकाठेर में मां-बेटी की सिर कुचल कर हत्या कर दी गई। दोनों के सिर पर सिलबट्टे के सिल से वार किए गए। मृतका रेलवे के सेवानिवृत्त कर्मचारी की पुत्रवधू और पौत्री हैं। घटना की जानकारी उस वक्त हुई, जब दूध लेने जा रहीं गांव की महिलाओं ने आवाज लगाई, कोई प्रतिक्रिया नहीं होने पर अंदर जाकर देखा तो शव चारपाई पर देख चीख निकल गई।

पुलिस ने दोनों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं। मौके पर पहुंचे मायके वालों ने हंगामा किया। ससुराल वालों के पर जमीनी विवाद में हत्या करने का आरोप लगाकर तहरीर दी गई। एडीजी, डीआइजी, एसपी, एएसपी ने घटना स्थल का मुआयना किया। 

ये घटना गजरौला थानाक्षेत्र के गांव कांकाठेर में हुई। यहां रेलवे के सेवा निवृत्त कर्मचारी नानक सिंह जाटव का परिवार रहता है। उनके चार बेटों के परिवार रहते हैं। उनके सबसे छोटे बेटे पवन की करीब नौ साल पूर्व बीमारी से मौत हो गई। जिसके बाद पवन की पत्नी मिथलेश अपनी दस वर्षीय बेटी यशि के साथ रहती थी। मिथलेश का 13 वर्षीय बेटा नवनीत अपनी ननिहाल में सैदनगली थानाक्षेत्र के गांव बांहपुर में रहता है। ग्रामीणों और पुलिस के मुताबिक मिथलेश कपड़ा सिलाई का काम करती थी।

कानपुर में दर्दनाक हादसा: सेप्टिक टैंक में उतरे तीन मजदूरों की जहरीली गैस से मौत, निर्माणाधीन मकान में काम कर रहे थे तीनों


यशि कक्षा दो में गांव के परिषदीय विद्यालय में पढ़ती थी। मिथलेश ने कोई पशु नहीं पाल रखा था। वह चाय के लिए गांव के ही किसान जोधा सिंह के यहां से दूध लाती थी। दूध लेने गांव की अन्य महिलाएं भी जाती थीं। रविवार की सुबह गांव की महिलाओं में शामिल सुमंत्रा देवी ने मिथलेश को दूध लाने जाते समय आवाज लगाई, लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई। घर का दरवाजा खुला हुआ था। जैसे ही महिला अंदर गईं तो मां-बेटी को एक ही चारपाई पर मृत देख उनकी चीख निकल गई।

इसके बाद घटना की खबर पूरे गांव और आसपास इलाके में फैल गई। गांव के लोग इकट्ठा हो गए। पुलिस पहुंच गई। मां-बेटी के सिर पर पत्थर से वार किए गए थे। पत्थर सिलबट्टे का है। जिसके कई टुकड़े थे। रक्त से सना पत्थर का एक टुकड़ा चारपाई पर, जबकि एक नीचे और एक टुकड़ा शौचालय के बराबर रखा था। सूचना पाकर अपर पुलिस अधीक्षक,  सीओ अरुण कुमार सिंह मौके पर पहुंच गए। एडीजी राजकुमार, डीआईजी शलभ माथुर, एसपी आदित्य लांग्हे ने मौका मुआयना किया। पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एहतियात के तौर पर रजबपुर थाना पुलिस भी बुला ली गई।


एसपी ने बताया कि मां-बेटी की हत्या हुई है। सिर पर सिलबट्टा का पत्थर मार कर हत्या की गई है। शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए गए हैं। मृतका के मायके वालों ने ससुराल वालों पर जमीनी विवाद में हत्या करने का आरोप लगाकर तहरीर थी है। एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

मायके वालों ने की ससुराल वालों से मारपीट


मां-बेटी की हत्या की जानकारी होने पर मिथलेश के मायके वाले पहुंचे। उन्होंने मृतका के ससुराल वालों पर हत्या करने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। ससुराल वालों के साथ मारपीट भी की। ग्रामीणों और पुलिस ने किसी तरह उनको समझाया। फिलहाल गांव में तनाव है।

मायके वालों ने थाने के सामने लगाया जाम


मां बेटी की हत्या के बाद मौके पर पहुंचे मायके वालों ने जमकर हंगामा किया। पुलिस पर मायके वालों को बिना दिखाएं शव पोस्टमार्टम भेजने पर नाराजगी जताई। इसके बाद तमाम परिजन एकत्र होकर गजरौला थाने पहुंच गए और थाने के बाहर सड़क पर जाम लगा दिया। साथ ही ससुराल वालों पर हत्या करने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी।
 

Share this story