भदोही: बीजेपी सांसद की गाड़ी पर गिरा टोल का बूम, कर्मचारियों को लात-घूंसों और बंदूक से पीटा, सीसीटीवी में पूरी घटना कैद
Bhadohi: Boom of toll fell on BJP MP's car, employees were beaten up with kicks, punches and guns, entire incident captured in CCTV

Bhadohi News: भदोही में भाजपा सांसद रमेश चंद बिंद के काफिले में चल रहे लोगों की गुंडागर्दी सामने आई है। यहां के गोपीगंज में बने लालानगर टोल प्लाजा पर सांसद की गाड़ी पर अचानक टोल का बूम गिरने पर उनका गुस्सा फूट पड़ा। सांसद के साथ चल रहे लोगों ने टोल कर्मचारियों को लात-घूंसों के साथ ही बंदूक से भी पीटा। टोल के इंचार्ज को अपनी गाड़ी में भी बिठा लिया और गोली मारने की धमकी दी। मामले का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है। वहीं, पूरे मामले पर पूछने पर सांसद ने कहा कि यह सब होता रहता है। 

सांसद रमेशचंद बिंद बुधवार की दोपहर कई गाड़ियों के काफिले के साथ टोल से गुजर रहे थे। इसी दौरान टोल पर लगा आटोमेटिक बूम उनकी गाड़ी पर गिर पड़ा। इसी से उनके साथ के लोग गाड़ी से उतरे और टोल के कर्मचारियों को पीटना शुरू कर दिया। कर्मचारियों ने बताया कि बूम आटोमैटिक है। एक गाड़ी गुजरने के बाद अपने आप गिरता है। लेकिन कर्मचारियों की नहीं सुनी गई। उन्हें लात-घूंसों और बंदूक के कुंदों से पीटा गया। 

Gurugram News: गुरुग्राम में भारी बारिश जल भराव, लोग हुए परेशान, मौसम विभाग ने जारी किया 48 घंटे का येलो अलर्ट

टोल प्लाजा इंचार्ज लल्लन पांडेय और टीसी पंकज कुमार शर्मा ने पुलिस को दी गई तहरीर में कहा कि बुधवार को दोपहर करीब दो बजे सांसद का वाहन टोल से गुजरा। उनकी गाड़ी के पीछे अन्य चार वाहन थे। एक गाड़ी के पास होते ही दूसरी गाड़ी भी पास होने की कोशिश करने लगी। इस पर गेट नंबर छह का फास्ट टैग वैरियर आटोमैटिक होने के कारण गिर पड़ा। इस पर वह लोग गालियां देने लगे।


कर्मचारियों ने बताया कि बूम ऑटोमेटिक है। उसे जानबूझकर नहीं गिराया गया बल्कि वह एक गाडी़ निकलने पर अपने आप गिरता है। इसके बाद भी उन लोगों ने एक नहीं सुनी। लात, घूसों से पिटाई करने के साथ ही बंदूक को निकाल कर पीटा। मारपीट होते ही अफरातफरी मच गई। प्लाजा इंचार्ज लल्लन पांडेय ने कहा कि जिस समय उन लोगों को पीटा जा रहा था सांसद भी मौजूद थे। उन्होंने किसी को ऐसा करने से रोका नहीं। 


वहीं टोल प्लाजा पर मारपीट के बाबत पूछे जाने पर भाजपा सांसद रमेश बिंद का कहना था कि ऐसी घटनाएं होती रहती हैं। कहाकि जब तक एफआईआर दर्ज नहीं होता है, तब तक कोई मतलब नहीं है। उधर, प्रभारी निरीक्षक गोपीगंज सदानंद सिंह ने बताया कि मारपीट की तहरीर मिली है। प्रकरण की जांच की जा रही है। पुलिस ने तीन स्कार्पियो सवार 15 अज्ञात लोगों पर केस दर्ज किया है।


 

Share this story