आगरा: मुझे बर्बाद कर वो खुश है: मैं खुद को खत्म कर रही हूं, आगरा में युवती ने दी जान, सुसाइड नोट में बयां किया दर्द
Agra: She is happy to ruin me: I am killing myself, girl gave her life in Agra, pain expressed in suicide note

आगरा में एक युवती ने सोमवार को आत्महत्या कर ली। सदर क्षेत्र स्थित घर में फंदे से उसका शव लटका मिला। मृतका के परिजन के मुताबिक, युवती ने सुसाइड नोट छोड़ा है। इसमें जिम संचालक के भाई को मौत का जिम्मेदार ठहराया है। उसने उसे प्यार में धोखा दिया। मानसिक शोषण कर रहा था। इससे परेशान होकर ही युवती ने आत्मघाती कदम उठाया। पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को हिरासत में ले लिया है।

सदर निवासी युवक ने पुलिस को बताया कि वह दिल्ली में नौकरी करता है। सोमवार को वह सिकंदरा गया था। घर पर छोटी बहन अकेली थी। दोपहर दो बजे वह घर लौटा तो बहन दरवाजे के ऊपर जंगले से दुपट्टे से बने फंदे पर लटकी हुई थी। उसे नजदीक के अस्पताल में ले गए, जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। घर में एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें बहन ने अपनी मौत के लिए जिम संचालक के भाई अंकित शर्मा को जिम्मेदार ठहराया है। 

कश्मीर घाटी में बड़े पर्दे पर फिल्म देखने का इंतजार खत्म, तीन दशक बाद श्रीनगर में लौटा मल्टीप्लेक्स का दौर, LG मनोज सिन्हा ने किया उद्घाटन

एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि तहरीर के आधार पर आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने की धारा में मुकदमा दर्ज किया है। आरोपी अंकित हिरासत में है। साक्ष्यों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। सुसाइड नोट के हस्तलेख मिलान के लिए विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा जाएगा।


युवती बीटीसी कर चुकी थी। वह राजस्थान में मामा के घर पर रहकर टैट की तैयारी कर रही थी। अभी हाल ही में वह आगरा आई थी। वह कंपनी बाग स्थित जिम जाने लगी थी। इसी दौरान उसे अंकित शर्मा ने उसे अपने जाल में फंसा लिया। जिम संचालक का भाई अंकित जिम में ट्रेनर है। दोनों भाई साथ में जिम चलाते हैं।


 
युवती ने सुसाइड नोट में अपना दर्द बयां किया है। उसने लिखा है कि मुझे माफ कर देना मम्मी, अब मैं जीना नहीं चाहती हूं। मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी गलती थी, जिम जाना। मुझे नहीं पता था कि बाहर कैसे लोग हैं। अंकित शर्मा से मुझे प्यार हो गया। शुरुआत में उसे मैं प्यार नहीं करती थी। उसके पास मेरा नंबर पहुंच गया। उसने मुझे मैसेज किए। सुबह-शाम आने लगा। इस पर बात करने लगी। धीर-धीरे प्यार हो गया। 


सुसाइड में आगे लिखा, ' आरोपी ने रिलेशनशिप के लिए फोर्स किया, मैंने हामी भर ली। लेकिन उसकी लाइफ में पहले से एक लड़की थी। धोखा अंकित ने दिया, लेकिन रिएक्ट ऐसे करता, जैसे कि सब मेरी गलती है। मैं सब भूलकर आगे बढ़ने की कोशिश कर रही हूं, लेकिन मुझसे नहीं हो पा रहा है। मेरी लाइफ खराब कर दी। उसके बिना में रह नहीं सकती। किसी और से शादी नहीं कर पाऊंगी। मुझे बर्बाद करके वह अपनी लाइफ में खुश है। अब मैं खुद को खत्म कर रही हूं। जिसका जिम्मेदार अंकित शर्मा है।
 

Share this story