बागेश्वर धाम के महाराज की कथा में मची भगदड़: एक महिला की मौत, 6 श्रद्धालु घायल

बागेश्वर धाम के महाराज की कथा में मची भगदड़: एक महिला की मौत, 6 श्रद्धालु घायल

भिंड. मध्य प्रदेश के भिंड जिले से बड़ी खबर सामने आई है, जहां प्रसिद्ध दंदरौआ मंदिर में बागेश्वर धाम (Bageshwar Dham) के महाराज धीरेंद्र शास्त्री की कथा में अचानक भगदड़ मच गई। इस दौरान भगदड़ में एक 55 वर्षीय महिला की मौत हो गई, जबकि 6 श्रद्धालु घायल भी हो गए हैं। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

बागेश्वर धाम के महाराज की कथा में उमड़ी थी भीड़


दरअसल, यह घटना मंगलवार सुबह 11 से 12 के बीच की बताई जा रही है। जहां जिले के धार्मिक स्थल दंदरौआ हनुमान मंदिर में बागेश्वर धाम के महाराज धीरेंद्र शास्त्री की हनुमंत कथा भी चल रही है। जिसके चलते मंदिर में हजारों की संख्या में लोग कथा सुनने के लिए पहुंचे हुए थे। इसके अलावा मंगलवार होने के कारण भी भारी भीड़ उमड़ी थी, इसी दौरान अचानक भगदड़ मच गई।


भीड़ में महिला को रौंद डाला


बता दें कि भगदड़ में मरने वाली महिला की पहचान 55 वर्षीय कृष्णा देवी पत्नी मोहनलाल बंसल के रूप में हुई। महिला दिव्य दरबार में शामिल होने के लिए मुरैना के हाउसिंग बोर्ड कालोनी से अपने बेटे श्रीराम बंसल और दामाद जितेश गर्ग के साथ आई थी। मृतका मंदिर में भगवान के दर्शन के लिए लाइन में लगी हुी थी। तभी वहां पर मौजूद भीड़ में धक्का-मुक्की शुरू हो गई। कई बुजुर्ग लोग इस भीड़ में कुचल गए। महिला भी जमीन पर नीचे गिर पड़ी और ऊपर से लोग उसे रौंदते हुए भागते रहे। इसी दौरान महिला की मौत हो गई।

पुलिस और महिला के बेटे ने दिए अलग-अलग बयान


इस पूरे मामले पर एक तरफ जहां मृतक महिला के बेटे ने आरोप लगाया है कि महाराज की कथा सुनने के लिए भारी भीड़ आई थी। लेकिन वहां पर  आयोजन समिति ने सुरक्षा व्यवस्था नहीं की थी। भीड़ इतनी ज्यादा थी कि सभी लोग बैरिकेड्स तोड़कर आने-जाने लगे और भगदड़ मच गई। इसी भगदड में मेरी मां कुचल गईं।

भीड़ को कंट्रोल करने के पुलिस जवान भगदड़ के वक्त साइड में खड़े थे। वहीं भिंड जिले के एसपी कमलेश कुमार ने सारे आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए बताया कि दंदरौआ धाम में कोई भगदड़ नहीं मची है, पुलिस के जवान वहां पर सुरक्षा में लगे हुए थे। दरअसल, महिला भीड़ ज्यादा होने से सीढ़ियों से उतरते समय गिर गई थी।

Share this story