सामूहिक आत्महत्या : कर्ज तले दबा परिवार नहीं झेल पाया प्रताड़ना, जहर पीने से 5 लोगों की मौत; बेटी की हालत गंभीर

Mass Suicide: Debt-ridden family could not bear the torture, 5 people died due to drinking poison; daughter's condition is critical

बिहार के नवादा से सामूहिक आत्महत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। आदर्श सोसायटी में एक ही परिवार के 6 लोगों ने जहर पी लिया, जिनमें से पांच लोगों की मौत हो गई। एक लड़की की हालत गंभीर है, उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है। बताया जा रहा है कि परिवार कर्ज में डूबा था और वसूली की प्रताड़ना से परेशान होकर जहर खा लिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के मुताबिक परिवार के मुखिया की पहचान केदारनाथ गुप्ता के रूप में हुई है। वह मूलरूप से रजौली का रहने वाला था और अपने परिवार के साथ नवादा शहर के न्यू एरिया में किराये के मकान में रह रहा था। केदारनाथ गुप्ता नवादा के विजय बाजार में फल की दुकान चलाता था। उसी के सिलसिले में उसने कुछ लोगों से कर्ज लिया था जिसे वह चुका नहीं पाया। 

बताया जा रहा है कि कर्जदाता केदारनाथ गुप्ता पर पैसा चुकाने का दबाव बना रहे थे। परिवार के अन्य सदस्यों को भी प्रताड़ित किया जा रहा था। इसी से तंग आकर पूरे परिवार ने सामूहिक रूप से यह खौफनाक कदम उठाया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक मरने वालों में केदारनाथ गुप्ता, उसकी पत्नी अनिता और तीन बच्चे शामिल हैं। इन्होंने अपने घर के बजाय वहां से दूर आदर्श सोसायटी इलाके में जाकर सुसाइड किया। दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीन अन्य ने अस्पताल में दम तोड़ा। एक बेटी की हालत गंभीर है। उसने बताया कि कर्ज देने वाले लोग उन्हें परेशान कर रहे थे। पुलिस ने कहा कि अभी मामले की जांच चल रही है। 

Share this story