Buxar Bawal : बक्सर में किसानों का उपद्रव जारी, पुलिस की गाड़ियां फूंकी; पावर प्लांट में तोड़फोड़

Buxar Bawal: Farmers' disturbance continues in Buxar, police vehicles burnt; sabotage in power plant

Buxar Protest Live: बिहार के बक्सर जिले में जमीन मुआवजे की मांग कर रहे किसानों पर पुलिस के अत्याचार के बाद किसानों का गुस्सा फूट पड़ा है। चौसा स्थित पावर प्लांट में बुधवार को किसानों ने घुसकर जमकर तोड़फोड़ और आगजनी कर दी। प्लांट में खड़े वाहनों को किसानों ने आग के हवाले कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस की गाड़ियों को भी फूंका गया है। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए बल प्रयोग भी किया है। हालात चिंताजनक बने हुए हैं।

स्थानीय लोगों का आरोप है कि पुलिस ने मंगलवार रात एक किसान के घर में प्रवेश किया और उसकी पिटाई की। मामला चौसा पावर प्लांट के लिए अधिग्रहित की जा रही जमीन से जुड़ा बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि अधिग्रहित जमीन के लिए बेहतर मुआवजे की मांग को लेकर किसानों का एक समूह यहां विरोध प्रदर्शन कर रहा है।

बक्सर के एसपी मनीष कुमार का कहना है कि स्थानीय लोगों ने पावर प्लांट में भी तोड़फोड़ की है। पुलिस स्थिति को नियंत्रित करने का प्रयास कर रही है और जल्द ही काबू पा लिया जाएगा।


लोगों का आरोप- पुलिस ने किसानों को बेरहमी से पीटा


स्थानीय लोगों का आरोप है कि पुलिस आधी रात को किसानों के घर में घुसकर उनकी पिटाई की है। पुलिस कार्रवाई का वीडियो भी परिजनों ने शेयर किया है। वीडियो में पुरुषों और महिलाओं को मदद के लिए चिल्लाते हुए सुना जा सकता है।

बताया जा रहा है कि एसजेवीएन की ओर से 2010-11 से पहले किए गए क्षेत्र में बिजली प्लांट के लिए उनकी भूमि के अधिग्रहण के लिए उचित मुआवजे की मांग को लेकर राज्य के किसान कुछ समय से विरोध कर रहे हैं।


किसानों को प्रचलित राशि के अनुरूप समय पर मुआवजा दिया गया। हालांकि, जब कंपनी ने पिछले साल अधिक भूमि का अधिग्रहण करना शुरू किया, तो किसानों ने मौजूदा दर के अनुसार मुआवजा देने की मांग की। कंपनी पर आरोप है कि वह जबरन पुराने रेट पर जमीन हड़प रही है।

Share this story