केंद्र ने अबू उस्मान अल-कश्मीरी को आतंकवादी घोषित किया, जम्मू-कश्मीर के लिए है खतरा

Center declared Abu Usman al-Kashmiri a terrorist, threat to Jammu and Kashmir

केंद्र सरकार ने अहमद अहंगर उर्फ ​​अबू उस्मान अल-कश्मीरी को गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत आतंकवादी घोषित किया है। श्रीनगर में जन्मा आतंकवादी वर्तमान में अफगानिस्तान में बैठा है। वह इस्लामिक स्टेट जम्मू और कश्मीर (ISJK) में शामिल होने के लिए युवाओं को भड़काता है और शामिल कराता है। न्यूज एजेंसी एएनआई ने गृह मंत्रालय के हवाले से यह जानकारी दी है।

जिहादी ट्रेनर और रिक्रूटर एजाज अहमद अहंगर उर्फ अबू उस्मान अल-कश्मीरी 55 साल का है। वह कई वर्षों तक जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकवादी था। उसे कई बार गिरफ्तार किया गया। वह 1996 में कश्मीर की जेल से आखिरी बार रिहा होने के बाद से लापता है। वह आज भी जम्मू-कश्मीर की सुरक्षा के लिए खतरा बना हुआ है। 

एजाज का नाम 2020 में तब सामने आया जब अफगान खुफिया एजेंसियों ने 25 मार्च, 2020 को काबुल गुरुद्वारे पर हुए हमले की जांच शुरू की। इस्लामिक स्टेट फॉर खुरासान प्रोविंस (ISPK) के प्रमुख और उसके साथियों को इस हमले के लिए जिम्मेदार माना गया। गुरुद्वारे पर हमले में 25 सिख श्रद्धालु मारे गए थे। यह एक ऐसी घटना जिसने अफगानिस्तान और भारत के बीच संबंधों को बहुत तनावपूर्ण कर दिया था।

Share this story