दिल्ली के सड़कों पर सलवार-सूट पहनकर राहगीरों से लूटपाट करने वाले गैंग का खुलासा, गैंग के तीन सदस्य गिरफ्तार

Revealed the gang that robbed passers-by wearing salwar-suits on the streets of Delhi, three members of the gang arrested

Delhi News: राजधानी की सड़कों पर सलवार-सूट पहनकर राहगीरों से लूटपाट करने वाले गैंग को पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस ने शुक्रवार रात न्यू उस्मानपुर के यमुना खादर जंगल में मुठभेड़ के दौरान गैंग के एक बदमाश को ढेर कर दिया, जबकि तीन को गिरफ्तार किया है। मारा गया 23 वर्षीय आकाश उर्फ इलू इलाके का घोषित बदमाश था। गिरफ्तार बदमाश मोनू उर्फ चीनी, विशाल उर्फ राहुल नेगी और निखिल से एक पिस्तौल, चाकू, लूट के आठ मोबाइल आदि मिले हैं। 

Noida News: नोएडा डीएम सुहास का आदेश, कांवड़ रूट पर बंद कराई जाएं शराब और मीट की सभी दुकानें

डीसीपी संजय कुमार सैन ने बताया कि यमुना खादर के आसपास महिला के वेश में लोगों से लूटपाट करने वाले गिरोह के बारे में सूचना मिली थी। शुक्रवार रात को सादे कपड़े में पुलिस टीम को यमुना खादर की सड़कों पर तैनात किया गया। इसी दौरान न्यू उस्मानपुर के पांचवें पुस्ते पर पुलिस टीम को तुषार नाम का युवक घायल हालत में मिला। तुषार ने बताया कि वह खादर क्षेत्र से आ रहा था। तभी पांच-छह बदमाशों ने हमला कर मोबाइल फोन लूट लिया। 

मुलायम सिंह यादव की पत्नी साधना गुप्ता का पार्थिव शरीर लखनऊ पहुंचा, पिपराघाट में होगा अंतिम संस्कार

तुषार को तुरंत नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके बाद पुलिस टीम तुषार के बताए गए रास्ते की तरफ बढ़ते हुए यमुना खादर के जंगल में करीब डेढ़ किलोमीटर अंदर पहुंची। टीम को वहां बदमाश मौजूद मिले। पुलिस टीम ने बदमाशों को बाहर आने को कहा तो उन्होंने गोलियां चला दी। इसके बाद एसआई नितिन ने जवाबी कार्रवाई करते हुए बदमाशों पर गोली चलाई। 

इस दौरान एक गोली बदमाश आकाश को लगी। वहीं, अन्य बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गए। घायल आकाश को जग प्रवेश चंद अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे लोक नायक अस्पताल रेफर कर दिया। लोकनायक अस्पताल में उसकी मौत हो गई। इसके बाद पुलिस ने जंगल के अंदर तलाशी अभियान चलाकर गिरोह के बदमाश मोनू, विशाल और निखिल को गिरफ्तार किया।

मारे गए बदमाश पर सात मामले 

मुठभेड़ में मारा गया आकाश न्यू उस्मानपुर इलाके का घोषित बदमाश था। उस पर लूटपाट के सात मामले दर्ज थे। हाल ही में वह जमानत पर जेल से बाहर आया था। वहीं, पकड़े गए एक आरोपी विशाल पर लूटपाट के छह मामले दर्ज हैं। 

राहगीरों को लुभाते, फिर लूट लेते

आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि निखिल और मोनू सलवार-सूट पहनकर यमुना खादर की सड़कों पर खड़े हो जाते थे। सड़क पर लड़कियों को देखकर राहगीर आसानी से रुक जाते थे। इसके बाद निखिल और मोनू राहगीरों को जंगल के अंदर ले जाते थे, जहां अन्य बदमाश पहले से मौजूद रहते थे। सभी बदमाश वहां राहगीरों को घेरकर नकदी और मोबाइल फोन आदि लूट लेते थे। विरोध करने पर बदमाश हथियारों से हमला कर घायल कर देते थे।


छह जुलाई को पुलिस पर किया था हमला 

न्यू उस्मानपुर इलाके में छह जुलाई को पुलिस टीम गश्त कर रही थी। इस दौरान गैंग के बदमाशों ने पुलिस की पीसीआर वैन पर पथराव किया था। इस घटना में एक पुलिसकर्मी चोटिल हो गया था। वारदात के बाद बदमाश जंगल के अंदर भाग गए थे। जांच में पता चला कि इन्हीं बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया था। 

Share this story