Noida News: नोएडा के सेक्टर-30 चाइल्ड पीजीआई में नर्सिंग स्टॉफ ने किया प्रदर्शन; संविदा नर्स को बिना जांच किए किया था निष्कासित, इंडोर सेवा प्रभावित
नोएडा के सेक्टर-30 चाइल्ड पीजीआई में नर्सिंग स्टॉफ ने किया प्रदर्शन:संविदा नर्स को बिना जांच किए किया था निष्कासित, इंडोर सेवा प्रभावित

#Noida News: नोएडा के सेक्टर-30 चाइल्ड पीजीआई में संविदा कर्मी को नौकरी से निकालने पर विरोध हो रहा है। नर्सिंग स्टाफ ने अस्पताल के डायरेक्टर का घिराव और ओपीडी ब्लाक में प्रदर्शन किया। इसमें नर्सिंग यूनियन, एसएसपीएच पीजीटीआई कर्मचारी संघ के शामिल है। मांग है कि संविदा नर्स का निष्कासन रद्य कर वापस नौकरी पर रखा जाए।

कर्मचारी संघ ने संविद कर्मी सुरेंद्र बोरा बिना जांच कमेटी के नौकरी से निष्कासित करने का आरोप लगाया है। इस मामले में सुरेंद्र ने बताया कि वह पत्नी की बीमारी पर चार दिन के अवकाश पर गया था। उन्होंने वार्ड नर्सिंग इंचार्ज और चीफ नर्सिंग ऑफिसर को मेल किया था।

UPSC : फिर चर्चा में वो IPS ऑफिसर जिसने पीएम मोदी के पेचीदे सवाल का दिया था शानदार जवाब

उन्होंने बताया कि वह 16 सितंबर को सुबह की डियूटी कर राजस्थान गए थे। इसके बाद 21 सितंबर को आकर नाइट शिफ्ट की। 22 सितंबर को उन्हे निदेशक ने बुलाया और मौखिक तौर पर निष्कासित करने के निर्देश दिए। संघ ने बताया कि सुरेंद्र पिछले चार सालों से अस्पताल में काम कर रहा है। उसने कोविड अस्पताल में काम किया। मजबूरी में वो अपने घर गया। और उसे नौकरी से निकाल दिया गया।

#NoidaNews

बहरहाल नर्सिंग स्टॉक के विरोध के चलते मरीजों को परेशानी हो रही है। यहां सभी बेड फुल है। इनडोर मरीजों की जिम्मेदारी इन्हीं नर्सिंग के हाथ में है। इसके अलावा ओपीडी में आए मरीजों को परेशानी हो रही है। बताया गया कि जल्द ही निदेशक के साथ बैठक की जाएगी। जिसके बाद कोई निर्णय निकलेगा।

Share this story