नोएडा : दीवार गिरने और चार लोगों की मौत के मामले में मुख्य आरोपी सुंदर यादव गिरफतर, 92 लाख में नाली बनाने का लिया था ठेका, एक आरोपी पहले ही हो चुका है अरेस्ट
Noida: Sundar Yadav, the main accused in the case of wall collapse and death of four people, had taken a contract to build a drain for 92 lakhs, one accused has already been arrested

Noida News in Hindi: नोएडा में दीवार गिरने और चार लोगों की मौत के मामले में मुख्य आरोपी सुंदर यादव को पुलिस ने फिल्म सिटी मोड़ से गिरफ्तार कर लिया है। इसके एक साथी गुल मोहम्मद को पुलिस ने 20 सितंबर को ही गिरफ्तार कर लिया था। सुंदर यादव ही एमडी कंस्ट्रक्शन प्रा. लि. कंपनी का प्रोपराइटर है। प्राधिकरण का ठेका इसी को अलॉट हुआ था।

School Closed: भारी बारिश को देखते हुए, गाजियाबाद के साथ नोएडा-ग्रेटर नोएडा में 24 को भी बंद रहेंगे 8वीं तक के सभी स्कूल बंद

नोएडा प्राधिकरण ने चार दीवारी के साथ बनी नाली के अनुरक्षण कार्य के लिए जलवायु विहार सेक्टर-21 आरडब्ल्यूए की ओर से कहा गया था। 17 अगस्त को एमडी प्रोजेक्ट एंड कंस्ट्रक्शन को 92 लाख रुपए का अनुबंध किया था। इसका अनुरक्षण कार्य शुरू कराया जा रहा था। इसी दौरान नाली के साथ बनी दीवार गिर गई।

प्राधिकरण, प्रशासन और पुलिस कर रही जांच


मामले में पुलिस, प्रशासन और प्राधिकरण तीनों अपने स्तर पर जांच कर रहे है। पहली जांच प्राधिकरण ने शुरू की। ये जांच एसीईओ की अध्यक्षता में की जा रही है। इस मामले में डीजीएम से लेकर सुपरवाअजर जेई, सर्किल प्रभारी, ठेकेदार के बयान दर्ज हो चुके हैं। विजिट भी की जा चुकी है। वहीं, पुलिस की ओर टेंडर दस्तावेज मंगवाए गए थे।

सुंदर यादव की लग्जरी गाड़ियां जब्त


मुख्य आरोपी ठेकेदार सुंदर यादव की दो लग्जरी गाड़ियों को भी पुलिस ने जब्त कर लिया है। इसमें एक कार गाजियाबाद और दूसरी नोएडा से रजिस्टर्ड हैं, लेकिन दोनों के नंबर वीआईपी श्रेणी के है। दोनों गाड़ियों को उसके निवास से उठाकर पुलिस कोतवाली सेक्टर-20 ले आई थी।

पुलिस की चार टीम तलाश रही थी


सुंदर यादव की गिरफ्तारी के लिए चार टीमें लगाई गई थी। पुलिस ने बताया कि उसके कई संभावित ठिकानों पर छापेमारी की गई। इसके अलावा दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद सहित अन्य ठिकानों पर नोएडा पुलिस की छापेमारी की। इसके बाद उसे शाम को पकड़ा गया।

Share this story