Noida Crime News: पति का मर्डर कर सेप्टिक टैंक में चुनवाया:प्रेमी के साथ पहले पिलाई शराब, बेहोश होते ही दबा दिया गला; 20 हजार की सुपारी भी दी थी

Husband was murdered and got elected in septic tank: first drank alcohol with lover, choked as soon as he fainted; 20 thousand betel nut was also given

Noida Crime News: नोएडा में पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति को मार डाला। पहले प्रेमी और उसके दोस्त के साथ मिलकर शराब में नशीली दवा पिलाई। जैसे ही वह बेहोश हुआ। उसका गला दबाकर हत्या कर दी। फिर राजमिस्त्री प्रेमी से पड़ोस में बन रहे सेप्टिक टैंक में चुनवाया दिया।

पूरी साजिश को इतने फूलप्रूफ तरीके से रचा कि पुलिस को शव बरामद करने में 4 दिन का वक्त लग गया। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी हरपाल को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने जब उनसे सख्ती से पूछताछ की, तो दोनों ने अपना जुर्म कबूल लिया। वहीं एक आरोपी अब भी फरार है।

इसी घर में पति सतीश को दफनाया गया था।

इसी घर में पति सतीश को दफनाया गया था।

बुलंदशहर का रहने वाला था सतीश
मरने वाले युवक का नाम सतीश था। वह बुलंदशहर का रहने वाला था। सतीश अपनी पत्नी नीतू और 5 साल के बच्चे के साथ ग्रेटर नोएडा वेस्ट की सरस्वती कुंज कॉलोनी में रहता था। वह यहां की एक कंपनी में नौकरी करता था।

ये सतीश का शव है, जिसको पुलिस ने बरामद कर लिया है।

ये सतीश का शव है, जिसको पुलिस ने बरामद कर लिया है।

2 साल से चल रहा था दोनों का अफेयर
पत्नी ने पुलिस को बताया, "एटा का रहने वाला हरपाल 2 साल पहले घर पर काम करने आया था। इस दौरान मेरा हरपाल के साथ अफेयर हो गया। हम दोनों एक दूसरे के काफी करीब आ गए। मकान बनाने के बाद हरपाल एटा चला गया, लेकिन मेरी उससे बातचीत होती रहती थी। सतीश मुझे अक्सर मारता-पीटता था। कहीं आने-जाने नहीं देता था। मैं उससे तंग आ गई थी। मैं उससे छुटकारा चाहती थी।"

ये आरोपी पत्नी नीतू और उसका प्रेमी हरपाल है।

ये आरोपी पत्नी नीतू और उसका प्रेमी हरपाल है।

2 जनवरी को पति का किया मर्डर
इसी बीच दिसंबर में मेरे घर के बगल में हरपाल को अजय का मकान बनाने का काम मिल गया। इसके बाद हम दोनों ने सतीश को मारने के लिए प्लान बनाया। इसमें हरपाल के दोस्त गौरव को भी शामिल किया। इसके लिए उसे हमने 20 हजार रुपए और सोने का समान भी दिया।

प्लानिंग के तहत 2 जनवरी को हरपाल, सतीश और गौरव शराब पीने बैठे। इसी दौरान हरपाल ने सतीश के ग्लास में नशीला पदार्थ मिला दिया। जब सतीश बेहोश हो गया, तो हम लोगों ने मिलकर उसका गला दबा दिया। फिर गौरव की मदद से शव को पड़ोस के निर्माणाधीन मकान में ले गए। इसके बाद हरपाल ने सतीश को सेप्टिक टैंक में चुन दिया।

ये आरोपी पत्नी नीतू है।

ये आरोपी पत्नी नीतू है।

मैंने सतीश के परिवार से झूठ बोला
आरोपी पत्नी ने बताया कि इसके बाद सतीश के परिवार ने कई बार फोन किया। मैंने उन लोगों से झूठ बोल दिया कि मुझे नहीं पता सतीश कहां है। वह मुझे बिना बताए कहीं चला गया है। लेकिन, उन लोगों ने पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी।

कई दिनों से भाई की कोई खबर नहीं मिली थी
सतीश के भाई छोटेलाल ने बताया, "मैं गाजियाबाद में रहता हूं। मेरे भाई अक्सर मुझसे मिलते रहते थे। लेकिन 2 जनवरी से उनकी कोई खबर नहीं मिल रही थी। भाभी नीतू भी सही से कोई जानकारी नहीं दे रही थी। इसके बाद 10 जनवरी को बिसरख पुलिस को भाई के गायब होने की सूचना दी। पुलिस ने मामले में गुमशुदगी दर्ज कर जांच शुरू कर दी।"

ये अजय का घर है। जिसमें निर्माण चल रहा था।

ये अजय का घर है। जिसमें निर्माण चल रहा था।

जल्द होगी गौरव की गिरफ्तारी- DCP
एडिशनल DCP विशाल पांडे ने बताया कि गुमशुदगी दर्ज होने के बाद पुलिस सतीश के घर पहुंची। यहां पर लोगों से हरपाल और नीतू के प्रेम-प्रसंग की बात पता चली। इसके बाद नीतू से पूछताछ की, तो उसने कुछ भी सही नहीं बताया। इसके बाद प्रेमी को हिरासत में लिया। जब उससे सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने हत्या की बात कबूल ली। फिलहाल नीतू और हरपाल को गिरफ्तार कर लिया है। गौरव की तलाश जारी है। उसकी गिरफ्तारी जल्द होगी।

Share this story