Yatharth Hospital: कोरोना काल में इलाज में लापरवाही बरतने वाले यर्थाथ अस्पताल के 5 डॉक्टरों पर FIR, जानिए पूरा मामला

FIR on 5 doctors of Yarthath Hospital who were negligent in treatment during the Corona period, know the whole matter

कोरोना काल में इलाज में लापरवाही बरतने वाले 5 डॉक्टरों पर FIR दर्ज हुई है। FIR स्वास्थ्य विभाग के डिप्टी सीएमओ ने कराई है। डॉक्टरों पर आरोप है कि कोरोना संक्रमण के दौरान मरीज को निर्धारित समय पर रेमडेसिवर इंजेक्शन नहीं दिया गया था। इास कारण मरीज की मौत हो गई थी। सभी डॉक्टर यर्थाथ अस्पताल (yatharth hospital) के है इसमें डॉ हेमंत, डॉ दानिश, डॉ इमरान, डॉ संजय और डॉ मयंक सक्सेना है।

प्रदीप कुमार शर्मा गाजियाबाद में रहते है। कोरोना काल में उनके बेटे दिपांशु शर्मा की तबीयत खराब हो गई थी। इस दौरान उनको इलाज के लिए यर्थाथ अस्पताल में भर्ती कराया था। वहां डॉक्टरों की लापरवाही से दिपांशु की मौत हो गई थी। जिसके बाद प्रदीप कुमार ने पेंडेमिक पब्लिक ग्रीवांस कमेटी में अर्जी की। यहां से नोएडा के सीएमओ को मामले के जांच आदेश दिए।

मामले में गठित जांच समिति जिसमें डिप्टी सीएमओ डा टीकम सिंह, फिजीशियन डा हरि मोहन गर्ग को जांच अधिकारी नामित किया गया। दोनों जांच अधिकारियों की ओर से संयुक्त रूप से 18 अक्टूबर 2022 को दी। जिसमें कहा गया कि डॉक्टरों की ओर मरीज को समय से रेमडेसिवर इंजेक्शन नहीं दिया गया।

Share this story