यूपी विधानसभा का मॉनसून सत्र आज से, असेंबली सेशन से पहले सपा का पैदल मार्च, पुलिस ने रोका, धरने पर बैठे अखिलेश
यूपी विधानसभा का मॉनसून सत्र आज से, असेंबली सेशन से पहले सपा का पैदल मार्च, पुलिस ने रोका, धरने पर बैठे अखिलेश

UP News: उत्तर प्रदेश में आज से मॉनसून सत्र शुरू हो रहा है. मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी ने कानून व्यवस्था, महंगाई जैसे मुद्दों पर सरकार को घेरने का मन बना लिया है. पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के नेतृत्व में सभी विधायक और एमएलसी पार्टी दफ्तर से विधान भवन तक पैदल मार्च निकाल रहे हैं. इस मार्च को देखते हुए भारी सुरक्षाबल तैनात किया गया है. सपा की रणनीति को देखते हुए सत्र हंगामेदार होने के आसार हैं. 

 


उधर, समाजवादी पार्टी के पैदल मार्च के शुरू होते ही जुबानी जंग भी तेज हो गई है. उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, समाजवादी पार्टी जिसे मार्च का नाम देकर विरोध प्रदर्शन कर रही है वो जनता के हितों से जुड़ा हुआ है ही नहीं. अगर उन्हें जनता से जुड़े किसी मुद्दे पर चर्चा करनी है तो सदन में करनी चाहिए, जो कार्यवाही का हिस्सा बने.  सरकार चर्चा के लिए तैयार है. 

 

दिल्ली : अब ED ने दुर्गेश पाठक को भेजा समन, सिसोदिया बोले- इनका टारगेट शराब नीति या MCD चुनाव

 

 

सपा के पैदल मार्च पर क्या बोले योगी

यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि राज्य में अराजकता की कोई जगह नहीं है. किसी भी दल और व्यक्ति को लोकतांत्रिक तरीके से अपनी बात रखने का अधिकार है. अगर उन्होंने अनुमति मांगी होगी, तो पुलिस उन्हें उचित सुरक्षा और रास्ता देगी. यह राजनीतिक दलों का दायित्व है कि वे किसी भी कार्यक्रम के लिए अनुमति मांगे.

बिना जनता को परेशान किए अनुमति देने का काम प्रशासन का है. अगर उन्होंने अनुमति मांगी होगी, तो उन्हें परमिशन मिली होगी. लेकिन सपा द्वारा किसी नियम का मानना किसी कपोल कल्पना की तरह ही लगता है. 



पलिस ने कहा- अनुमति नहीं मांगी

लखनऊ ज्वाइंट कमिश्नर लॉ एंड ऑर्डर पीयूष मोर्डिया ने बताया कि पैदल यात्रा की जानकारी मिली थी. इसके लिए पहले अनुमति नहीं मांगी गई थी. हमने उनको एक मार्ग निर्धारित करके दिया था.  जिससे यातायात और अन्य परेशानी नहीं होती. उन्होंने इसे नहीं माना. ऐसे में उनको रोकने के अलावा कोई अन्य उपाय नहीं है. 

Share this story