लखनऊ: छात्रा की संदिग्ध मौत के बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुला बड़ा राज, झूठे साबित हुए स्कूल मैनेजमेंट के दावे

Lucknow: After the suspicious death of the student, a big secret was revealed in the postmortem report, the claims of the school management proved to be false.

लखनऊ: बक्शी का तालाब स्थित एसआर ग्लोबल स्कूल में संदिग्ध परिस्थितियों में 13 वर्षीय छात्रा की मौत का मामला सामने आया। बताया जा रहा है कि गिरने की वजह से कक्षा 8 की छात्रा प्रिया राठौर की मौत हुई है। घटना के बाद देर रात जब पुलिस की टीम स्कूल पहुंची तो इमारत की छत और खिड़की से छात्रा के गिरने के कोई भी साक्ष्य नहीं मिले। स्कूल प्रबंधन भी मामले को दबाने में लगा हुआ है। प्रबंधन के अनुसार छात्रा टहलते समय फर्श से गिर गई।

हॉस्टल की छत पर चढ़कर की गई पड़ताल

मामले को लेकर इंस्पेक्टर बीकेटी ब्रजेश चंद्र तिवारी ने जानकारी दी कि टीम के साथ स्कूल के अंदर हॉस्टल की छत पर चढ़कर भी पड़ताल की गई है। हालांकि वहां से छात्रा के गिरने के कोई भी साक्ष्य नहीं मिले हैं। खिड़कियां इतनी छोटी है कि वहां से छात्रा के गिरने की कोई संभावना ही नहीं है। फिलहाल मामले में स्टाफ के बयान दर्ज कर लिए गए हैं। छात्रा के पिता जयराम अपने गृह जनपद जालौन उरई के हरदोई गूजर गांव में हैं। छात्रा के पिता के द्वारा दो दिन में आने की बात कही है और उनके आने पर जो तहरीर प्राप्त होगी उसी के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

स्कूल प्रबंधन के बयान को झूठला रही पोस्टमार्टम रिपोर्ट

वहीं इस मामले में डीसीपी उत्तरी मो. कासिम आब्दी के द्वारा जानकारी दी गई कि छात्रा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट, परिस्थितिजन्य साक्ष्य और स्कूल प्रबंधन के बयान अलग-अलग हैं। इस मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर स्टेट मेडिकोलीगल बोर्ड से ली जाएगी। इसी के साथ अन्य जो भी दस्तावेज हैं उनकी जांच की जा रही है। स्टेट मेडिकोलीगल बोर्ड को पोस्टमार्टम रिपोर्ट भेजी गई है। हास्टल वार्डेन के अनुसार छात्रा खाना खाने के बाद टहलने गई थी। इसी बीच वह गश खाकर पार्क में गिर गई। हालत बिगड़ने पर उसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। वहीं पुलिस का कहना है कि छात्रा एक दिन पहले ही घर से वापस आई थी। उसने घटना के दिन हॉस्टल में खाना भी नहीं खाया था। वार्डेन की ओर से जो भी कहानी बताई गई है वह झूठी है।

छात्रा ने नहीं किया था भोजन

छात्रा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पैर की हड्डी दो जगह से टूटी हुई है। इसके अलावा गर्दन के पास की हड्डी, दाएं पैर का पंजा, कमर के पास की हड्डी भी टूटने की पुष्टि हुई है। डॉक्टर के पैनल के द्वारा छात्रा के पेट से कुछ सैंपल भी लिया गया है। उस सैंपल को जांच के लिए भेजा गया है। मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया गया कि छात्रा ने भोजन नहीं किया था और उसका पेट खाली था। पेट में सिर्फ लिक्विड पदार्थ ही मिला है और उसे जांच के लिए भेजा गया है। विसरा भी जांच के लिए सुरक्षित रखा गया है।

Share this story