Gurugram News: प्यार में शक और 65 तोले सोने की सुपारी, पत्नी ने कराया डीलर का कत्ल; सनसनीखेज है कहानी

Gurugram News: Suspicion in love and 65 tola of gold betel nut, wife killed dealer; the story is sensational

Gurugram News: हरियाणा के गुरुग्राम में एक बार फिर रिश्तों को शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। पुलिस ने प्रॉपर्टी डीलर के ब्लाइंड मर्डर केस की गुत्थी को सुलझाते हुए मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी के दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। इस दोस्त ने ही प्रॉपर्टी डीलर गोली मारकर हत्या की थी।

आरोप है कि संपत्ति हड़पने के लिए प्रेमी के साथ मिलकर पत्नी ने पति की हत्या करवाई थी। अपराध शाखा पालम विहार ने आरोपी पत्नी नीतू और प्रेमी के दोस्त और गोली मारने वाले उत्तर प्रदेश के संभल निवासी मोहम्मद्दीन (42) को पकड़ लिया है, जबकि इस मामले में प्रेमी बबूल खान अभी फरार है।

एक्ट्रेस Priyanka Chopra के विरोध में Lucknow में लगे पोस्टर्स, लिखा- नवाबों के शहर में तुम्हारा स्वागत नहीं, जानिए ऐसा क्यों ?

20 साल पहले हुई थी शादी

एसीपी (क्राइम) प्रीतपाल सांगवान ने बताया कि 42 वर्षीय प्रॉपर्टी डीलर धर्मेश और नीतू की शादी 20 साल पहले हुई थी और उनके दो बच्चे हैं। धर्मेश और नीतू दोनों को एक दूसरे पर विश्वास नहीं था और किसी न किसी बात पर एक दूसरे पर शक भी करते थे। इसी को लेकर उनका कई सालों से विवाद चल रहा था। पूछताछ के दौरान नीतू ने बताया कि उनके घर एक नौकरानी काम करती थी, उसको शक था कि पति का उससे चक्कर है।

इस बात को लेकर कई बार विवाद हुआ और उसके बाद नौकरानी को हटा दिया गया था। लगभग छह महीने पहले दूसरी नौकरानी को घर पर काम करने के लिए रखा गया। उस नौकरानी ने नीतू की दोस्ती उत्तर प्रदेश के संभल निवासी बबलू खान से छह महीने पहले करवाई थी। उसके बाद दोनों आपस में बाते करने लगे और उनमें प्यार हो गया। ऐसे में नीतू ने बबलू खान के साथ मिलकर तीन महीने पहले से पति की हत्या करने की योजना बनानी शुरू कर दी थी। सात दिन पहले प्रॉपर्टी डीलर की हत्या करवा दी गई।

कार की नंबर प्लेट और सिम निकाल कर आए थे आरोपी

नीतू ने ही प्रेमी को जानकारी दी थी कि धर्मेश सेक्टर-22 स्थित एक निर्माणाधीन प्लॉट में 29 अक्टूबर को सोने जा रहा है। सूचना मिलने के बाद बबलू खान अपने दोस्त मोहम्मद्दीन के साथ हत्या को अंजाम देने के लिए वहां पहुंच गया था। बबलू खान ने आने से पहले अपने व दोस्त के मोबाइल फोन से सिम कार्ड को निकाल दिया था और पहचान छिपाने के लिए कार की नंबर प्लेट भी हटा दी थी। बबलू खाने ने गिरफ्तारी से बचने के खूब उपाय किए थे।

प्रेमी को पकड़ने के लिए पुलिस ने गांव में दबिश दी

एसीपी प्रीतपाल सांगवान ने बताया कि बबलू खान और दोस्त मोहम्मद्दीन दिल्ली में रंगाई का काम करते थे। इसी दौरान बबलू खान की दोस्ती नीतू से हो गई थी। बबलू खान की जानकारी मिलने के बाद गुरुग्राम पुलिस की एक टीम उत्तर प्रदेश में उसके गांव गई, जहां पर पता चला कि वह अपना मकान बनवा रहा है। उन्होंने बताया कि वारदात में इस्तेमाल की गई पिस्टल का भी बबलू खान ने ही इंतजाम किया था।

पुलिस को गुमराह किया 

जांच के दौरान पुलिस ने धर्मेश की पत्नी से भी कई बार पूछताछ की गई, लेकिन वह हर बार गुमराह करती रही। आरोपी मोहम्मद्दीन की गिरफ्तारी के बाद उससे पूछताछ की गई और उसने पूरे घटनाक्रम का खुलासा कर दिया और पत्नी ने भी हत्या में शामिल होने की बात कबूल कर ली।

वारदात से पहले प्रेमी को दिया था 65 तोला सोना

पत्नी नीतू ने खुलासा किया है कि पति की हत्या करवाने से पहले उसने बबलू खान को 65 तोले सोना दिया था, ताकि वह हत्या की योजना को अंजाम दे सके और किसी तरीके की कोई अड़चन न आए। उनकी योजना थी कि धर्मेश की हत्या करने के बाद सारी प्रॉपर्टी उसके नाम हो जाएगी और वह दोनों शादी कर लेंगे। हत्या के लिए बबलू खान ने पूरे शातिराना ढंग से योजना तैयार की थी।

एसीपी (क्राइम) प्रीतपाल सांगवान ने बताया कि आरोपी पत्नी एक दिन और मोहम्मद्दीन को तीन दिन के रिमांड पर लिया गया है। बबलू खान की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

Share this story