ग्रेटर नोएडा में लुटेरों के गिरोह का खुलासा, 5 गिरफ्तार:चोरी के वाहनों से करते थे लूटपाट, डराने के लिए अवैध हथियार का करते थे प्रयोग

Gang of robbers exposed in Greater Noida, 5 arrested: They used to rob with stolen vehicles, used illegal weapons to scare

Greater Noida Crime News: ग्रेटर नोएडा के बिसरख थाने की पुलिस ने शातिर लुटेरों के गिरोह का खुलासा किया है। पुलिस ने खुलासा करते हुए पांच शातिर लुटेरों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने लुटेरों के कब्जे से लैपटॉप, मोबाइल फोन, चोरी की मोटरसाइकिल और स्कूटी सहित अवैध हथियार बरामद किया है। यह लोग चोरी के वाहनों से लूटपाट की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे।

ग्रेटर नोएडा में लगातार मोबाइल लूट व मोटरसाइकिल चोरी की घटनाएं सामने आ रही थी। जिसको लेकर पुलिस आरोपियों के गिरोह की तलाश कर रही थी। जो क्षेत्र में इन घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। शुक्रवार को पुलिस ने चेकिंग के दौरान एक स्कूटी और मोटरसाइकिल पर सवार 5 लोगों को चेकिंग के लिए रोका। जब पुलिस ने उनसे पूछताछ की और मोटरसाइकिल स्कूटी की जांच की तो पता चला कि यह दोनों ही वाहन चोरी के हैं।

Shah Rukh Khan को मुंबई एयरपोर्ट पर कस्टम ने रोका, की लंबी पूछताछ, जानें पूरा मामला

लूटपाट की घटनाओं को अंजाम देते थे


इसके बाद पुलिस इन लोगों को पकड़कर थाने ले आई और कड़ाई से पूछताछ की। जिसके बाद इन लोगों ने बताया कि यह लोग क्षेत्र में लूटपाट की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे। पहले यह वाहन चोरी करते थे और फिर उसके बाद उन चोरी के वाहनों से ही सुनसान इलाकों पर लोगों के साथ लूटपाट की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे। लोगों को डराने के लिए यह अवैध हथियार भी अपने पास रखा करते थे।

इनको किया गया गिरफ्तार


बिसरख पुलिस ने इस दौरान अजय, सुधांशु, यशपाल, अनुज और आकाश को गिरफ्तार किया है। यह लोग गिरोह बनाकर लूटपाट की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे। पुलिस ने इनके कब्जे से चोरी की एक मोटरसाइकिल, एक स्कूटी, एक लैपटॉप, मोबाइल फोन, तमंचा कारतूस व अन्य सामान बरामद किया है।

ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में सक्रिय थे आरोपी


बिसरख थाना प्रभारी उमेश बहादुर सिंह ने बताया कि 5 लुटेरों को गिरफ्तार किया गया है। यह क्षेत्र में चोरी के वाहनों से लूटपाट की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे। फिलहाल इनके आपराधिक इतिहास के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। यह लोग ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में काफी सक्रिय थे।

Share this story