Ghaziabad Crime News: ट्रैफिक सिपाही को कार के बोनट पर 2KM लटकाकर घुमाया, गाजियाबाद में 5 मिनट तक जान बचाने के लिए चिल्लाता रहा, फिर बाइक की टक्कर से रुकी गाड़ी

Traffic constable hanged on the bonnet of the car for 2 KM: kept shouting for 5 minutes in Ghaziabad to save his life, then the vehicle stopped due to bike collision

Ghaziabad Crime News: गाजियाबाद में चेकिंग के दौरान कार सवार युवक ने ट्रैफिक पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल को टक्कर मार दी। वह बोनट के ऊपर आ गिरा। इसके बावजूद कार नहीं रुकी और हेड कांस्टेबल को करीब 2 किलोमीटर तक बोनट पर घुमाया। वह 5 मिनट तक चींखता-चिल्लाता रहा। जिसके बाद अचानक कार के सामने बाइक आ गई। टक्कर लगने के बाद कार रुक गई। पुलिस ने कार ड्राइवर और उसके एक साथी को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि तीसरे साथी की तलाश कर रही है।

शिप्रा मॉल कट पर हो रही थी वाहन चेकिंग

ट्रैफिक पुलिस के सब इंस्पेक्टर अनुराग यादव, हेड कांस्टेबल अंकित कुमार यादव, प्रेमपाल और सुनील कुमार शुक्रवार शाम करीब 4 बजकर 30 मिनट पर इंदिरापुरम थाना क्षेत्र में शिप्रा मॉल कट पर वाहन चेकिंग कर रहे थे। इस दौरान हाईवे से शहर के अंदर आ रही हरियाणा नंबर की टाटा एल्टोस कार को रुकने का इशारा किया। कार में ड्राइवर के अलावा दो और लोग बैठे हुए थे। ड्राइवर ने सीट बेल्ट नहीं पहनी हुई थी।

NH-9 की सर्विस लेन पर भगाई कार

हेड कांस्टेबल अंकित कुमार यादव ने बताया, 'ड्राइवर ने रोकने की जगह कार की रफ्तार तेज करते हुए उन्हें टक्कर मार दी। इस हादसे में हेड कांस्टेबल अंकित कार के बोनट के ऊपर आ गिरे और फिर ड्राइवर इस कार को नेशनल हाईवे--9 की सर्विस लेन से शहर के अंदर लेकर भागा। वह कार के बोनट पर करीब 2 किलोमीटर तक ऐसे ही लटके रहे।

दो बाइकों में टक्कर मारी, तब कार रुकी

उधर, ट्रैफिक पुलिस के बाकी साथी भी इस कार का पीछा कर रहे थे। हड़बड़ाहट में कार ने दो बाइकों को टक्कर भी मारी। आम्रपाली सोसाइटी के सामने अचानक एक बाइक इस कार के सामने आ गई। बाइक से टकराकर कार रुक गई और हेड कांस्टेबल अंकित नीचे सड़क पर गिर गए। इतने में पीछे से आ रहे पुलिसकर्मियों ने कार के ड्राइवर को पकड़ लिया, जबकि उसके दो साथी भाग निकले।

Ghaziabad Crime News

होटल में नौकरी करता है ड्राइवर, बाकी दो उसके दोस्त

पुलिस ने ड्राइवर की पहचान अभी त्यागी के रूप में की है। वह इंदिरापुरम थाना क्षेत्र के मकनपुर गांव का रहने वाला है। उसका पकड़ा गया साथी अक्षित त्यागी है जो हरियाणा में जिला सोनीपत के गनौर गढ़ी केसरी गांव का निवासी है। फरार हुए तीसरे साथी की पहचान रक्षित त्यागी निवासी सोनीपत के रूप में हुई है। तीनों आपस में दोस्त हैं।

अंकित कुमार यादव ने तीनों आरोपियों के खिलाफ जानलेवा हमला समेत अन्य गंभीर धाराओं में थाना इंदिरापुरम में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने आरोपियों की कार भी जब्त कर ली है। इंदिरापुरम थाने के एसएचओ देवपाल सिंह ने बताया कि ड्राइवर अभी त्यागी गाजियाबाद के होटल ब्लू स्टोन में जॉब करता है। जबकि अक्षित और रक्षित उसके रिश्तेदार हैं जो सोनीपत से गाजियाबाद आए हुए थे।

Share this story