Ghaziabad News: गाजियाबाद के वैशाली में अधेड़ की हत्या, 14 साल की नाबालिग बेटी और उसके प्रेमी पर शक, गाजियाबाद में वारदात के बाद दोनों फरार
Ghaziabad News: Middle-aged murdered in Vaishali, Ghaziabad, 14-year-old minor daughter and her lover suspected, both absconding after the incident in Ghaziabad

Ghaziabad News: गाजियाबाद के पॉश एरिया वैशाली में स्वास्थ्यकर्मी के पति की दर्दनाक तरीके से हत्या कर दी गई। रस्सी से उनका गला घोटा गया है। हाथ-पैर भी रस्सी से बंधे मिले हैं। पुलिस को 14 साल की गोद ली हुई बेटी और उसके प्रेमी पर हत्या करने का शक है, जो फ्लैट से फरार हैं। CCTV खंगालने पर दिख रहा कि आखिरी बार घर से लड़की और उसका प्रेमी आगे-पीछे निकल कर जा रहे हैं।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने पंखुड़ी पाठक को उत्तर प्रदेश में सोशल मीडिया चेयरपर्सन की दी जिम्मेदारी

बेडरूम में पड़ी थी लाश


कौशांबी थाना क्षेत्र के वैशाली सेक्टर-4 के एक फ्लैट में अनिल सक्सेना (58) साल, पत्नी पिंकी और गोद ली हुई 14 वर्षीय बेटी के साथ रहते थे। पिंकी दिल्ली के मलेरिया विभाग में कार्यरत हैं। वह गुरुवार सुबह ही ड्यूटी पर चली गई थीं। शाम को ड्यूटी करके लौटीं तो फ्लैट बाहर से बंद था।

पिंकी ने अनिल को फोन लगाया, लेकिन कॉल रिसीव नहीं हुई। इसके बाद पिंकी ने डुप्लीकेट चाभी से फ्लैट का दरवाजा खोला। अंदर का नजारा देखकर होश उड़ गए। बेडरूम में अनिल सक्सेना की लाश पड़ी हुई थी। हाथ-पैर रस्सी से बंधे हुए थे। गला भी रस्सी से बंधा था। ऐसा प्रतीत हो रहा था कि रस्सी से गला घोंटकर हत्या की गई हो।

दोस्त संग घर से भागी थी लड़की, तब हुई थी FIR


पुलिस की प्राथमिक जांच में सामने आया है कि अनिल सक्सेना की गोद ली हुई 14 वर्षीय पुत्री कुछ दिनों पहले अपने एक दोस्त के साथ चली गई थी। मामले में अनिल ने थाना कौशांबी में शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बाद पुलिस ने लड़की को बरामद किया। कोर्ट में लड़की ने अपने दोस्त के पक्ष में बयान दिए थे। हालांकि उसके नाबालिग होने की वजह से कोर्ट में ये बयान कहीं टिक नहीं पाए और उसके आरोपी दोस्त को कानूनी प्रक्रिया से गुजरना पड़ा था। इस केस के बाद पुलिस ने लड़की को अनिल सक्सेना और पिंकी के सुपुर्द कर दिया।

फैमिली ने लड़की पर उसके दोस्त से मिलने पर रोक लगा दी। कहा जा रहा है कि बंदिश के बावजूद दोनों अक्सर चोरी–छिपे मिलते थे। माना जा रहा है कि हत्या की एक वजह ये भी हो सकती है। CCTV में नाबलिग लड़की जिस दोस्त के साथ फ्लैट से जाती हुई दिख रही है, वो लड़का यही होने की आशंका है।

बुजुर्ग दंपति ने देखभाल के लिए गोद ली थी बेटी


पुलिस ने बताया कि अनिल सक्सेना कैंसर मरीज थे। उनके गले में कैंसर था। नौकरी की वजह से बच्चे बाहर रहते हैं। इसलिए दंपति ने कुछ साल पहले इस बच्ची को गोद ले क्या था, ताकि अनिल सक्सेना की देखभाल हो सके। क्योंकि पिंकी अपनी नौकरी की वजह से सुबह ही घर से निकल जाती थीं और देर शाम तक ही उनकी वापसी होती थी।

फिंगर एक्सपर्ट ने जुटाए सुबूत
सूचना पर SSP मुनीराज जी., SP सिटी ज्ञानेंद्र सिंह समेत भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। डॉग स्क्वायड और फिंगर एक्सपर्ट टीम को बुलाकर सुबूत इकट्ठा किए गए। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजकर पुलिस ने तमाम बिंदुओं पर छानबीन शुरू कर दी है।

SSP बोले- नाबालिग लड़की प्राइम सस्पेक्ट
SSP मुनीराज जी. ने बताया कि हत्या के बाद सोसाइटी का CCTV फुटेज देखा गया है। 14 वर्षीय लड़की और उसका कथित दोस्त आगे-पीछे पैदल-पैदल निकलते हुए दिखाई दे रहे हैं। प्राथमिक जांच में दोनों पर ही हत्या करके फ्लैट बंद करके भागने का शक है। दोनों को कस्टडी में लेने के प्रयास किए जा रहे हैं। इसके बाद ही केस का वर्कआउट हो सकेगा। SSP ने यह स्पष्ट किया है कि फ्लैट में लूटपाट जैसा कुछ नहीं हुआ है।

Share this story