Ghaziabad News: गाजियाबाद में पशुओं की नकली दवा बनाने की फैक्ट्री पकड़ी:तीन ड्रग इंस्पेक्टरों की ज्वाइंट छापेमारी, उत्पादन कार्य बंद कराया; माल जब्त

Factory caught making spurious animal medicine in Ghaziabad: joint raid of three drug inspectors, production work stopped; seized goods

Ghaziabad News: गाजियाबाद में ड्रग विभाग ने साहिबाबाद औद्योगिक क्षेत्र में पशुओं की नकली दवा बनाने की फैक्ट्री पकड़ी है। अधिकारियों ने सारा माल जब्त करते हुए फैक्ट्री में उत्पादन कार्य बंद करा दिया है। इस मामले में कोर्ट में रिपोर्ट पेश की जाएगी।

ड्रग विभाग को सूचना प्राप्त हुई थी कि साहिबाबाद औद्योगिक क्षेत्र में राजेंद्रनगर गली-चार स्थित मैसर्स एरोक्सी वेटनरी फैक्ट्री में पशुओं की नकली एलोपैथिक दवाओं का निर्माण किया जा रहा है। इस सूचना पर ड्रग इंस्पेक्टर आशुतोष मिश्रा, अनुरोध कुमार और वैभव बब्बर ने ज्वाइंट टीम बनाई और पुलिस बल के साथ शुक्रवार को छापामार कार्रवाई की।

इस दौरान फर्म मालिक अनिल कुशवाहा मौजूद मिले। यहां पर पशुओं की दवाई के टेबलेट, साबुन आदि तैयार किए जा रहे थे। इसी फैक्ट्री में इनका स्टॉक भी रखा जा रहा था। अनिल कुशवाहा ने फूड लाइसेंस दिखाया, लेकिन वे पशुओं की दवा बनाने और उसे भंडारित करने का लाइसेंस नहीं दिखा पाए।

ड्रग इंस्पेक्टर आशुतोष मिश्रा ने बताया कि मौके से टेबलेट और साबुन के सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिए गए हैं। प्रिंटेट एल्युमिनियत फॉयल, प्रिंटेन कार्टन और करीब 50 हजार रुपए का तैयार माल वहां से जब्त किया गया है। फर्म में उत्पादन कार्य को बंद कर दिया गया है। साथ ही फर्म को बेचे गए उत्पादों के खरीद-फरोख्त बिल प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया है। नमूने की जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Share this story