डेटिंग ऐप पर हुई थी श्रद्धा से मुलाकात, लिव इन पार्टनर के हत्यारोपी आफताब ने किए सनसनीखेज खुलासे

Had met Shraddha on the dating app, Aftab, the killer of the live-in partner, made sensational revelations

Shraddha Murder Case: दिल्ली मर्डर केस में आरोपी अफताब ने कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं। लिव-इन पार्टनर श्रद्धा की हत्या करने वाले आफताब अमीन पूनावाला ने पुलिस को बताया कि 2019 में एक डेटिंग ऐप के जरिए उसकी मुलाकात श्रद्धा से हुई थी। आफताब ने बताया कि 2019 से ही वह श्रद्धा के साथ लिव इन रिलेशन में रहने लगा।


बता दें कि आरोपी आफताब ने अपनी लिव इन पार्टनर की गला घोंटकर हत्या कर दी थी और फिर शव के 35 टुकड़े कर दिए थे। इसके बाद उसने शव के टुकड़ों को ठिकाने भी लगा दिया था। वारदात के छह महीने बाद पुलिस ने आफताब पूनावाला को सोमवार को दिल्ली के छतरपुर में उनके साझा फ्लैट से गिरफ्तार किया।

आफताब ने पुलिस से क्या बताया?


पूछताछ के दौरान, आफताब ने पुलिस को बताया कि उसके और श्रद्धा के रिश्ते खराब थे और अक्सर झगड़े होते रहते थे। उन्होंने कहा कि श्रद्धा उन पर शादी करने का दबाव बना रही थीं और वे अक्सर इसे लेकर झगड़ते थे।

18 मई को कहासुनी के बाद आफताब ने अपने साथी का गला दबा दिया। फिर उसने एक धारदार हथियार से उसके शरीर के टुकड़े-टुकड़े कर दिए और कटे हुए हिस्सों को स्टोर करने के लिए एक फ्रिज खरीद लिया। अगले 16 दिनों में, वह रात के अंधेरे में निकल जाता और दिल्ली के आसपास विभिन्न स्थानों पर टुकड़ों को ठिकाने लगा देता था।

8 नवंबर को श्रद्धा के पिता ने दर्ज कराई थी शिकायत


श्रद्धा के पिता ने 8 नवंबर को दिल्ली के महरौली पुलिस स्टेशन में अपनी बेटी के लापता होने की प्राथमिकी दर्ज कराने के बाद जांच शुरू की थी। उन्होंने पुलिस को बताया था कि श्रद्धा के दोस्त ने 14 सितंबर को उनके बेटे से संपर्क किया और कहा कि वह दो महीने से अधिक समय से श्रद्धा के संपर्क में नहीं है। श्रद्धा का फोन स्विच ऑफ है।

आरोपी ने शातिरों की तरह वारदात को दिया अंजाम


श्रद्धा का गला घोंटने और उसके शरीर को काटने के बाद, आफताब ने 300 लीटर का एक रेफ्रिजरेटर खरीदा, जिसे उसने 16 दिनों में दिल्ली के जंगल में फेंक दिया था। जिस कमरे में आफताब ने वारदात को अंजाम दिया, उस कमरे में उसने खून के धब्बों को साफ करने के लिए केमिकल का यूज किया। पुलिस ने जब फ्रिज बरामद किया तो उसमें खून का एक छींटा तक नहीं था।

यह मामला सोशल मीडिया पर ट्रेंड पकड़ गया है। सोशल मीडिया पर #DelhiMurder #Shraddha #lovejihaad जैसे टॉपिक ट्रेंड में है। पढ़िए इस जघन्य हत्याकांड से जुड़े 10 फैक्ट्स...

1.दिल्ली महिला आयोग (DCW) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने महरौली में श्रद्धा हत्याकांड का स्वत: संज्ञान लिया है। उन्होंने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। इधर, पुलिस ने आफताब के इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स को जब्त कर लिया है। गैजेट्स और गूगल सर्च हिस्ट्री को वेरिफाई किया जा रहा है। दिल्ली पुलिस के सूत्रों के अनुसार, आफताब पूनावाला हिट क्राइम-थ्रिलर डेक्सटर(Dexter TV Series 2006–2013) ) का फैन था। उसने इसी को देखकर हत्या की प्लानिंग की थी। आफताब को शनिवार को गिरफ्तार किया गया था।

2. श्रद्धा वालकर मूलत: मुंबई के पालघर जिले के वसई की रहने वाली थी। कोरोनाकाल में जब उसकी मां की मौत हुई, तब वो 15 दिन के लिए अपने घर आई थी। लेकिन फिर जब वो वापस आफताब के पास पहुंची, तो फिर नहीं दिखी। आफताब और श्रद्धावसई के करीब नायगांव में रह रहे थे। उसके बाद दिल्ली आ गए।

3. श्रद्धा के गायब होने की खबर सबसे पहले 14 सितंबर 2022 को तब पता चली थी, जब उसके भाई श्रीजय विकास वालकर को उसके एक दोस्त लक्ष्मण नाडर ने फोन करके बताया था। नाडर का कहना था कि श्रद्धा का फोन 2 महीने से बंद है। तब कहीं श्रद्धाके पिता ने 6 अक्टूबर 2022 को वसई के माणिकपुर थाने में मिसिंग रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

4. वसई के संस्कृति अपार्टमेंट में श्रद्धा का बचपन गुजरा था। श्रद्धा 2019 में मलाड के एक कॉल सेंटर में काम करती थी। यहां उसकी पहचान आफताब से हुई थी। बाद में दोनों एक-दूसरे से प्यार करने लगे।

5. 2018 से श्रद्धा और आफताब रिलेशन में थे। लेकिन फिर दोनों में झगड़ा होने लगा। दोनों मार्च-अप्रैल में मुंबई से हिमाचल घूमने निकले थे। पुलिस की पड़ताल में खुलासा हुआ है कि हिमाचल विजिट के दौरान आफताब दिल्ली के छतरपुर के रहने वाले किसी लड़के से मिले था। इसके बाद वो आफताब ने श्रद्धा को मुंबई छोड़कर दिल्ली में रहने के लिए तैयार किया था। आशंका है कि हत्या की प्लानिंग पहले से ही की गई थी। पुलिस के अनुसार, 8 मई को दोनों दिल्ली पहुंचे थे। यहां वे कुछ दिन पहाड़गंज के होटल में रुके। फिर साउथ दिल्ली के सैदुल्लाजाब इलाके में ठहरे।बाद में छतरपुर में एक फ्लैट किराए पर ले लिया।

6. चूंकि आफताब ने श्रद्धा की हत्या के बाद उसकी बॉडी के 35 से अधिक पीस करके रोज जंगल में फेंक रहा था, इसलिए पुलिस को लाश के तौर पर सिर्फ कुछ हड्डियों के टुकड़े ही मिले हैं। पुलिस इनकी DNA सैम्पलिंग करा रही है।

7. श्रद्धा ने ने प्रेमी आफताब अमीन पूनावाला के साथ रहने की जिद के चलते अपने माता-पिता का घर छोड़ दिया था।उसके परिवार ने इस रिश्ते को मंजूरी नहीं दी थी। लड़की मई में अपने दोस्तों और परिवार के संपर्क से बाहर हो गई थी। जांच में पता चला कि आफताब ने न केवल उसका गला घोंट दिया, बल्कि उसके शरीर को 35 से अधिक टुकड़ों में काट दिया और उन्हें तब तक फ्रिज में रख दिया। फिर धीरे-धीरे उन्हें फेंकता रहा।

8. श्रद्धा के एक दोस्त रजत शुक्ला ने खुलासा किया कि श्रद्धा और आफताब अपने रिश्ते के शुरुआती दिनों में खुश रहते थे। बाद में आफताब उसके साथ मारपीट करने लगा था। श्रद्धा उसे छोड़ना चाहती थी, लेकिन ऐसा नहीं कर सकी। 

9. श्रद्धा के एक अन्य दोस्त लक्ष्मण नादर ने मीडिया को बताया था कि श्रद्धा ने बताया था कि उसकी हत्या हो सकती है। मई में उसकी श्रद्धा से बात हुई थी। नादर ने कहा कि जब उन्हें मैसेज और कॉल का कोई जवाब नहीं मिला, तब उसने श्रद्धा के परिवार को इस बारे में बताया।

10. कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने श्रद्धा मर्डर केस पर गुस्सा जताया है। उन्होंने ट्वीट किया कि "आफताब पूनावाला ने जिस हैवानियत से लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वॉलकर की हत्या की है, उससे पूरा देश सदमे और गुस्से में है। कोई भी शब्द इस आघात का वर्णन नहीं कर सकता। यह एक जघन्य अपराध है। अपराधी को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए। श्रद्धा और भारत की बेटियां न्याय की हकदार हैं।"

Share this story