Bulandshahr News: पंचायत में तुगली फरमान, पंचों ने तीन बच्चों की मां को प्रेमी के साथ रहने का सुनाया फरमान, पढ़िए पूरा मामला

Tughli decree in the panchayat, the panch ordered the mother of three children to live with the lover, read the whole matter

 Bulandshahr News बुलंदशहर जिले के औरंगाबाद थानाक्षेत्र के एक गांव में हुई पंचायत में तुगली फरमान सुना गया। प्रेमी संग रहने की जिद पर अड़ी तीन बच्चों की मां को पंचों ने प्रेमी के साथ रहने की इजाजत दे दी। साथ ही ताउम्र बच्चों से संबंध न रखने का वचन दिलाया। इसके बाद समाज के लोगों ने महिला को गांव के युवक के सिपुर्द कर दिया। महिला की सात साल पहले शादी हुई थी।

आपत्तिजनक हालात में देख लिया था


महिला सोमवार शाम जंगल में चारा लेने गई थी। काफी देर तक जब वह घर नहीं लौटी तो पति उसकी तलाश में जंगल पहुंच गया। वहां पत्नी को पड़ोसी युवक के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देखकर पति आपा खो बैठा। महिला ने प्रेमी का साथ दिया और पति के साथ रहने से इन्कार कर दिया। पत्नी और उसके प्रेमी की पिटाई से क्षुब्ध पति ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। पुलिस दोनों पक्षों को तहरीर देने की बात कहकर गांव से चली गई।

प्रेमी के साथ रहने की जिद


इस मामले को लेकर देर शाम दोनों पक्षों की गांव में पंचायत हुई। पंचायत में महिला प्रेमी के साथ रहने की जिद पर अड़ गई। उसने पंचों को बताया कि काफी दिनों से दोनों एक-दूसरे से प्यार करते हैं। पति ने भी पंचायत में पत्नी को रखने से इन्कार कर दिया। इस पर पंचों ने पति, पत्नी और प्रेमी से अलग-अलग बात की और महिला को प्रेमी के साथ रहने का फरमान सुना दिया। साथ ही हिदायत दी कि भविष्य में वह अपने तीनों बच्चों से कोई संबंध नहीं रखेगी।

थाना प्रभारी बोले कि मामला संज्ञान में नहीं


पंचायत में प्रेमी को सलाह दी गई कि वह पड़ोस में न रहकर कहीं दूसरे स्थान पर महिला को रखे। दोनों पक्षों ने इस पर सहमति जताई और महिला को पंचायत ने प्रेमी के सिपुर्द कर दिया। वहीं, थाना प्रभारी औरंगाबाद राजपाल तोमर ने बताया कि मामला संज्ञान में नहीं है, कंट्रोल रूम की सूचना पर पुलिस गई होगी। दोनों पक्षों में से किसी ने थाने में अभी तक तहरीर नहीं दी है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। 

Share this story